Ringtones S M Virals Love Status
Home » News » sherlyn chopra speaks about casting couch in bollywood in hindi

अभिनेत्री शर्लिन चोपड़ा ने खोले फिल्मो की रंगीन दुनिया के काले राज। कहा कोड वर्ड्स के साथ किया जाता है शोषण।




बॉलीवुड एक्ट्रेस शर्लिन चोपड़ा फ़िल्मी पर्दे पर अपने बोल्ड स्टाइल और हॉट पर्फोर्मंसेज के लिए तो पॉपुलर हैं ही साथ ही वो पर्दे के पीछे अपनी बेबाक राय और खुलकर बोलने के बिंदास अंदाज के लिए भी जानी जाती है। उनका ये बिना किसी झिजक के अपनी बात रखने वाला नेचर अक्सर उन्हें सुर्ख़ियों में बनाये रखता है। यही नहीं शर्लिन चोपड़ा अक्सर फ़िल्मी गलियारों में भी चर्चा का विषय बनी रहती है। बॉक्स आफिस पर रिलीज हुई अपनी अधिकांश फिल्मों में उन्होंने काफी बोल्ड परफॉर्मेंसेज दी है जिनको ऑडियंस ने भी बहुत पसंद किया। 


रिसेंटली फिल्म इंडस्ट्री में कास्टिंग काउच को लेकर काफी चर्चाएं हुई और कई खुलासे भी हुए। बॉलीवुड की ऐसी कई एक्ट्रेसज ने चकाचौंध से भरी इस ग्लैमर वर्ल्ड की कड़वी सच्चाई और अपनी आप बीती घटनाएं शेयर करके इंडस्ट्री में तहलका मचा दिया था। इसी विषय पर अभिनेत्री शर्लिन चोपड़ा ने अपनी बेबाक राय रखते हुए इंडस्ट्री में अपने एक्सपीरियंसेज शेयर किये। शर्लिन ने बताया कि अपने करियर की स्टार्टिंग में उनको काम के लिए किस तरह की प्रॉब्लम्स को फेस करना पड़ा था। कास्टिंग काउच के लिए फिल्म इंडस्ट्री में यूज किये जाने वाले कोड वर्ड का भी उन्होंने खुलासा किया।

 

शर्लिन कहती है बॉलीवुड ग्लैमर की ये रंगीन दुनिया बाकी सब से टोटली डिफरेंट है। कास्टिंग काउच ग्लैमर की इस जगमगाती दुनिया का काला अँधेरा हैं। जिसके विषय में अभिनेत्री शर्लिन चोपड़ा ने भी बेझिझक बात की है। एक्ट्रेस शर्लिन चोपड़ा ने याद करते हुए बताया कि करियर स्टार्टिंग में जब वह फर्स्ट टाइम एक फिल्म मेकर से मिली तो उनको आधी रात को 'डिनर' के लिये इन्वाइट किया था। 


कुछ समय पूर्व एक्ट्रेस शर्लिन चोपड़ा ने कास्टिंग काउच को लेकर राज पर से पर्दे उठाये। अपने एक इंटरव्यू में शर्लिन ने बताया कि शुरूआती दौर में जब उन्होंने फिल्मी दुनिया में एंट्री की थी और वो एक अनजान चेहरा थी तो शर्लिन फिल्म प्रोडूसर्स को अप्रोच कर रही थी कि वह उनका टैलेंट दुनिआ को दिखाएं, जिसके लिए शर्लिन बहुत कॉन्फिडेंट थी। साथ ही शर्लिन कहती है कि जब मैं अपना पोर्टफोलिया लेकर उनके पास पहुँचती थी तो मुझे कहा जाता था 'अच्छा ओके, ठीक है, हम मिलते हैं डिनर पर' मुझे लगता था कि ये एक नार्मल बात है, इसलिए मैं पूछ लेती थी कि मुझे डिनर पर कब आना है तो वह मिलने वाला जवाब काफी हैरान करने वाला होता था जब मुझे नाईट में 11 या 12 बजे आने के लिए बोला जाता था। 'डिनर' से उन लोगों का रीयल मीनिंग होता था समझौता करना। फिर चार - पांच बार ऐसा हो जाने पर मुझे समझ आया कि 'डिनर' वर्ड को यूज करके वो लोग कह रहे होते थे, 'मेरे पास आओ बेबी'।


अपनी इस डिस्कसन में शर्लिन ने कहा कि फिर मैंने ऐसे फिल्म निर्माताओं की बुरी नीयत को पहचान कर उनको मुँह पर आय एम् नॉट इंटरेस्टेड कहकर मना करना शुरू कर दिया। इसके बाद मैंने डिसाइड किया कि मुझे कोई 'डिनर' नहीं करना है। तब ऐसे घटिया लोगो को उन्ही की भाषा में जवाब देने के लिए मैंने अपना कोड वर्ड तैयार किया। फिर जब भी मैं काम मांगने  जाती और कोई भी मेरे लिए उस कोड वर्ड का इस्तेमाल करता तो मैं भी कह देती थी, 'मैं डिनर नहीं करती हूं, मेरा डायट चल रहा है। आप ब्रेकफास्ट पर या लंच पर बुला सकते है।' उसके बाद उनका रिप्लाई तो दूर चेहरा भी देखने लायक हो जाता था।


इंडस्ट्री के मशहूर फिल्‍म निर्माता रामगोपाल वर्मा पर संगीन इल्जाम लगाकर भी शर्लिन सुर्खियों में आ गयी थी। अपने एक साक्षात्कार में एक्ट्रेस ने बॉलीवुड को लेकर भी कास्टिंग काउच पर खुलकर बात की थीं तब शार्लिन चोपड़ा ने बताया था कि रामगोपाल वर्मा ने उनको किसी एडल्‍ट फिल्‍म में काम करने के लिए अप्रोच किया था और भद्दे मैसेज भी किये थे। शर्लिन चोपड़ा ने रामगोपाल वर्मा पर ही निशाना साधते हुए कहा था कि ऐसे लोगो द्वारा फिल्‍म इंडस्‍ट्री में बाहर से आने वाले कलाकारों के साथ डिस्क्रिमिनेशन और टॉर्चर किया जाता है। 








Latest Ringtones
Images
Filmfare
Baby Names
Myguru.in
Statusrays.com
Whatsapp Status
Shayari
Shows
Love Calculator
Love Memes
Type in Hindi
Follow Us: