रे मनवा

रे मनवा.....
तू जाने ले क्या है भक्ति भाव
प्रभु का एक ही स्वभाव
एक ही भाव
रे मनवा.......

कभी न मालूम हो तुझको क्या है आभाव
तूने बनाया है मुझस ऐसा लगाव
में भी चाहूँ तुझमे आये बदलाव
रे मनवा.......

जानले जिन्दगी क्या चाहे तुझसे
लम्बा सफर काल गति तेज है
तू निस्तेज है
रे मनवा.......

जाग अब भी समय है पास
फिर न कहना है जीतेजी कुछ न कर पाया
मिला था सब कुछ पर मै भरमाया
के मनवा.......

जोड़तोड़ की जमा माया
वह भी छोड़ आया
खाली हाथ अकेले चला आया
रे मनवा.......

अहसास हुआ यहाँ आने पर
मैं क्या गलती कर आया
के मनवा......

भक्ति धन परमार्थ से दूर रहा
हो गई तेरी भारी पाप की गठरी
तू ही बता अब क्या करे गिरधारी
रे मनवा......

अब भी तो चेत ले
अपने को बदल ले
रे मनवा तू जान ले ,क्या है भक्ति-भाव

Read More




वृदांवन के वृक्ष क्या है

ब्रज के एक संत बाबा ब्रजमोहनदास जी के पास आया करते थे "श्री रामहरिदास जी", उन्हेंनें पूछाँ कि बाबा लोगों के मुहॅ से हमेशा सुनते आए कि🌹🌹🌹

“वृदांवन के वृक्ष को
मर्म ना जाने केाय,
डाल-डाल और पात-पात
श्री राधे राधे होय

तो महाराज क्या वास्तव में ये बात सत्य है.कि वृदावंन का हर वृक्ष राधा-राधा नाम गाता है.

तो ब्रजमोहनदास जी ने कहा - क्या तुम ये सुनना या अनुभव करना चाहते हो ?

तो श्री रामहरिदास जी ने कहा - कि बाबा! कौन नहीं चाहेगा कि साक्षात अनुभव कर ले. और दर्षन भी हो जाए. आपकी कृपा हो जाए,

तो ब्रजमोहन दास जी ने दिव्य दृष्टि प्रदान कर दी. और कहा - कि मन में संकल्प करो और देखो और सामने "तमाल का वृक्ष" खडा है

उसे देखो, तो रामहरिदास जी ने अपने नेत्र खोले तो क्या देखते है

कि उस तमाल के वृक्ष के हर पत्ते पर सुनहरे अक्षरों से राधे-राधे लिखा है उस वृक्ष पर लाखों तो पत्ते है. जहाँ जिस पत्ते पर नजर जाती है.

उस पर राधे-राधे लिखा है, और जब पत्ते हिलते तो राधे-राधे की ध्वनि हर पत्ते स्व निकल रही है.

तो आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा और ब्रजमोहन दास जी के चरणों म Read More





Prev 1   2   3   4   5   6   7   8   9   10   11   Next
Bheegey Hont...
Download
Bhagam Bhag...
Download
Matargashti Ringtone...
Download
with love (1)...
Download
Tum Bas Tum...
Download
Sad Love Ringtones 057 sa...
Download

♥ Love Images ♥

♥ Love Memes ♥


Love Images
Ringtones
Shayari
Love Calculator
Love Memes
Type in Hindi