कभी कभार ही सही, मिलने के बहाने चाहिए,
इस दिल को यादों के आशियाने चाहिए ,
जिनसे हो जाती है ज़िन्दगी ज़न्नत मेरी,
निगाहों को बस वो ही ठिकाने चाहिए..