" कुछ तो खासियत है, 
               इस प्रजातंत्र में,

वोट देता  हूँ फकीरों को, 
      कमबख्त शहंशाह बन जाते है !! "