ना मस्जिद की बात हो , न शिवालों की बात हो ,
प्रजा बेरोज़गार है , पहले निवालों की बात हो !!
मेरी नींद को दिक्कत ना भजन से है, ना अज़ान से है,
दिक्कत मरते हुये जवान और खुदकुशी करते किसान से है..!!