ये मेरा इश्क़ था  कि दीवानगी की इन्तहा

तेरे करीब से गुज़र गए तेरे ही ख्यालों में
 

Share